छिपकली का जमीन पर चलना क्या संकेत देता है?

छिपकली का चलना कई घटनाओं के बारे में बताता है। हर घर में छिपकली पाई जाती है। छिपकली का जमीन पर गिरना या चलना या फिर शरीर के किसी हिस्से पर गिरना कई सारे शुभ और अशुभ संकेतों की ओर इशारा करता है। छिपकली माता लक्ष्मी का रूप होता है, ऐसा माना जाता है। यदि घर में छिपकली दिख जाए तो इसे शुभ माना जाता है।

छिपकली का पुरुष और स्त्री के अंगों पर गिरने का अलग-अलग महत्व होता है। ऐसा माना जाता है कि पुरुष के दायें भाग और स्त्री के बाएं भाग पर छिपकली का गिरना शुभ होता है। शकुन शास्त्र के अनुसार, छिपकली का किसी खास समय पर दिखाई देना, जमीन या शरीर पर गिरना इत्यादि का संबंध भविष्य में होने वाली शुभ-अशुभ घटनाओं से होता है।

घर की दीवारों पर छिपकली का नीचे से ऊपर की ओर चढ़ना शुभ माना जाता है। वहीं ऊपर से नीचे की आना अशुभ माना जाता है। इसलिए जमीन पर छिपकली का गिरना शुभ नहीं माना जाता है। यदि आप नए घर या किराए के मकान में शिफ्ट करते हैं और घर में जमीन पर या दरवाजे पर मरी हुई छिपकली दिख जाए तो यह शुभ संकेत नहीं होता है।

नए घर में प्रवेश करते समय यदि घर में मृत छिपकली दिख जाए तो उस घर में रहने वाले सदस्य अक्सर बीमार रहते हैं। घर में नकारात्मक हवाओं का वास होता है। घर में किसी भी प्रकार की सुख शांति नहीं होती है।

घर की छत पर अगर रेंगती हुई छिपकली किसी सोते हुए या लेटे हुए व्यक्ति के पेट पर गिर जाए तो यह इस बात का संकेत होता है कि उस व्यक्ति को भविष्य में कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि यदि छिपकली व्यक्ति के छाती पर गिरे तो यह शुभ माना जाता है। यह इस बात का संकेत होता है कि व्यक्ति को स्वादिष्ट भोजन की प्राप्ति होती है।

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *