मंगलवार को हनुमान पूजा कैसे करें? मंगलवार की पूजा का महत्व जानें

मंगलवार का दिन हनुमान जी की पूजा के लिए सर्वश्रेष्ठ होता है। इस दिन हनुमान जी के मंदिरों में भक्तों का तांता लगा हुआ रहता है। हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए मंगलवार को हनुमान पूजा की जाती है। आइए जानते हैं मंगलवार को हनुमान पूजा कैसे करें ताकि आपको पूजा का पूर्ण फल प्राप्त हो सके।

बजरंगबली को प्रसन्न करने के लिए कई लोग मंगलवार का व्रत करते हैं तो कई लोग मंगलवार को मंत्र जाप भी करते हैं। शास्त्रों में हनुमान चालीसा को और हनुमानाष्टक को बहुत ही उत्तम माना गया है। इसलिए मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा का विशेष महत्व है। हालांकि इस दिन कुछ ऐसे कार्य भी हैं जिसे नहीं करना चाहिए।

मंगलवार की पूजा करते वक्त कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए। कई बार हमसे जाने अनजाने में कुछ ऐसी गलतियां हो जाती है जिससे हनुमान जी नाराज हो जाते हैं और पूजा का पूर्ण फल हमें प्राप्त नहीं हो पाता है। इससे हनुमान जी की कृपा रुकी हुई रह जाती है। आइए जानते हैं मंगलवार को हनुमान जी की पूजा कैसे करें और मंगलवार की पूजा में किन गलतियों को ना दोहराएं।

मंगलवार के दिन कौन सा काम ना करें?

लोहा खरीदने से बचें – मंगलवार के दिन लोहा खरीदना अशुभ माना जाता है। इस दिन स्टील के बर्तन, कटर, चाकू और कैंची जैसी धारदार चीजों को खरीदना नहीं चाहिए। नया वाहन भी खरीदना इस दिन अच्छा नहीं माना जाता है।

यह भी पढ़ें -   पूर्णिमा के दिन सिंदूर लगाना चाहिए कि नहीं, आज ही छोड़ दें यह आदत

क्रोध करने से बचें – क्रोध करने से व्यक्ति का जीवन बर्बाद हो जाता है। इसलिए शास्त्रों में ऐसा कहा गया है कि कभी भी क्रोध नहीं करना चाहिए। मंगलवार के दिन क्रोध करने से बचना चाहिए। इसके साथ साथ इस दिन किसी से भी लड़ाई झगड़ा या अपशब्द नहीं बोलना चाहिए।

कर्ज देने से बचें – मंगलवार के दिन किसी को कर्ज भी देना अच्छा नहीं माना जाता है। इस दिन कर्ज देने से आपका कर्ज आपको वापस मिलने की संभावना बहुत ही कम होती है। हालांकि यदि आपने किसी का पैसा लिया है तो इस दिन उस पैसे को वापस करना शुभ माना जाता है।

मांस, मछली, अंडा का सेवन ना करें – मंगलवार के दिन किसी भी प्रकार के मांसाहारी भोजन का सेवन ठीक नहीं होता है। इस दिन मांस, मछली और अंडा का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से आपका जीवन बर्बाद हो सकता है।

पश्चिम और उत्तर दिशा में यात्रा न करें – मंगलवार के दिन पश्चिम और उत्तर दिशा में यात्रा करना अशुभ माना जाता है। जब तक अत्यंत जरूरी ना हो इस दिशा में यात्रा न करें। यदि आपको किसी कारणवश पश्चिम और उत्तर दिशा की यात्रा करना पड़े तो घर से गुड़ खाकर यात्रा पर निकलें।

नमक का सेवन ना करें – मंगलवार के दिन नमक का सेवन वर्जित माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि मंगलवार के दिन नमक खाने से हर प्रकार के कार्यों में बाधा आती है और इसका सेहत पर भी बुरा असर पड़ता है।

यह भी पढ़ें -   Sapne Me Pani Dekhna: जानें सपने में पानी देखने का क्या मतलब होता है?

मंगलवार को हनुमान जी की पूजा कैसे करें?

मंगलवार को हनुमान की पूजा यदि आप करना चाहते हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि आपको कम से कम 21 मंगलवार का व्रत जरूर करना चाहिए। मंगलवार की पूजा के लिए सबसे पहले मंगलवार के दिन सुबह जल्दी उठे हैं और स्नान के बाद साफ-सुथरे कपड़े पहन लें।

इसके बाद पूजा स्थल की अच्छी तरह से सफाई करें और एक चौकी पर हनुमान जी की मूर्ति या उनकी प्रतिमा स्थापित करें। इसके बाद हनुमान जी के सामने घी का दीपक जलाएं। घी का दीपक जलाना उत्तम माना जाता है। इसके बाद हनुमान जी को फूलों की माला पहनाएँ और उनके सामने चमेली का तेल रखें।

चमेली का तेल हनुमान जी को अति प्रिय है। हनुमान जी के सामने चमेली का तेल रखने के बाद हनुमान जी की पूजा करें और हनुमान चालीसा का पाठ करें। इसके बाद हनुमान जी को प्रसाद अर्पित करें। प्रसाद अर्पित करने के बाद भगवान की आरती भी करें। इस दिन लाल रंग का कपड़ा पहनना चाहिए। शास्त्रों में ऐसा शुभ माना गया है।

मंगलवार की पूजा का महत्व

मंगलवार की पूजा का महत्व क्या है? मंगलवार के दिन हनुमान जी का दिन होता है और इस दिन हनुमान जी की पूजा की जाती है। मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा करना सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। यदि आपके ऊपर कोई संकट आ रहा है तो इन संकटों से मुक्ति के लिए मंगलवार के दिन हनुमान जी की उपासना करना चाहिए।

यह भी पढ़ें -   सपने में इंद्रधनुष देखना देता है पति का वियोग, क्या आपने भी देखा है यह सपना?

हनुमान जी राम भगवान के अनन्य भक्त थे। भगवान राम ने हनुमान जी को वरदान दिया था कि वह कलयुग के अंत तक चिरंजीवी रहेंगे। हनुमान जी अपने भक्तों पर जल्द ही प्रसन्न हो जाते हैं। मंगलवार का व्रत करना इसलिए उत्तम माना जाता है क्योंकि मंगलवार की पूजा करने से सर्व सुख, रक्त विकार, राज्य सम्मान तथा पुत्र की प्राप्ति होती है।

मंगलवार की पूजा का महत्व इस तरह से समझा जा सकता है कि इस दिन पूजा करने से हनुमान जी भक्तों के कष्ट, रोग और पीड़ा आदि दूर कर देते हैं। अपने भक्तों की हर संकटों से सुरक्षा करते हैं और परिवार में सुख समृद्धि आती है।

ॐ हं हनुमते नमः मंत्र का जाप करने से हनुमान जी अपने भक्तों पर प्रसन्न होते हैं। इसके साथ-साथ हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए राम नाम का जाप 108 बार कर सकते हैं। श्री राम जी का गुणगान करने से हनुमान जी बहुत ही अधिक प्रसन्न होते हैं।

मंगलवार के दिन राम रक्षा स्त्रोत, बजरंग बाण, हनुमान अष्टक का पाठ करना सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। हनुमान आरती, हनुमत स्तवन, राम वंदना, राम स्तुति, संकटमोचन हनुमानाष्टक का पाठ भी करना चाहिए। मंगलवार के दिन परिवार सहित मंदिर जाकर मंगलकारी सुंदरकांड का पाठ करने से घर में हमेशा सुख शांति बनी रहती है।