Categories: Vaastu Gyaan

छिपकली को मारने से क्या होता है, जानें इसके शुभ-अशुभ फल

छिपकली मारना पाप या पुण्य। छिपकली को हिंदू धर्म में मारने से मना किया गया है। छिपकली को मारना पाप माना जाता है। कहा जाता है कि छिपकली को मारने से इसका कर्मफल अगले जन्मों में भुगतना पड़ता है। छिपकली इंसान और भगवान के बीच संवाद का एक जरिया होती है, ऐसा कहा जाता है। छिपकली को माता लक्ष्मी का भी रूप माना जाता है।

जिस घर में छिपकली का वास होता है वहां पर माता लक्ष्मी का निवास माना गया है। ऐसा माना जाता है कि छिपकली के रूप में भगवान अपने भक्तों से मिलने आते हैं। वैसे तो भगवान अपने भक्तों से अलग-अलग रूपों में मिलने आते हैं लेकिन के रूप में भक्तों से मिलने आते हैं ऐसा माना जाता है। छिपकली को भगवान का दूत माना गया है।

कुछ घरों यह भी विश्वास किया जाता है कि छिपकली के रूप में उनके पूर्वज उनके घर में रहते हैं। छिपकली व्यक्ति के जीवन में आने वाले अच्छे और बुरे दिनों का संकेत देती हैं। अलग-अलग जगहों पर छिपकली का गिरना और अलग-अलग जगहों पर छिपकली का आवाज निकालना भी कई शुभ-अशुभ संकेतों और आने वाले अच्छे-बुरे समय की ओर इशारा करता है।

कई मंदिरों में छिपकली की पूजा भी की जाती है। श्री रंगम रंगनाथ स्वामी मंदिर में दीवारों पर छिपकली का चित्र भी बनाया गया है। माना जाता है कि मंदिर में दर्शन को आने श्रद्धालु यदि इन छिपकलियों के दर्शन करता है तो भगवान के दर्शन का फल दोगुना हो जाता है।

कांचीपुरम के एक मंदिर में छिपकली के चित्र को मंदिर में उकेरा गया है। कांचीपुरम के वर्दराज स्वामी मंदिर के गर्भगृह के बगल में एक खास जगह पर छिपकली के चित्र बने हैं। यह छिपकली सोने और चांदी की हैं। ऐसा माना जाता है कि इस मंदिर में भगवान के दर्शन तबतक पूरा नहीं तो जबतक आप इन छिपकलियों के दर्शन नहीं करते। कहा जाता है कि यह दोनों छिपकलियाँ गंधर्व थे, जिन्हें छिपकली बनने का श्राप मिला था।

Recent Posts

पाकिस्तान के करांची में धमाका, 3 लोगीं की मौत, 15 घायल

नई दिल्ली। पाकिस्तान के करांची शहर में हुए एक बड़े धमाके में 3 लोगों की…

21 October 2020

छिपकली का जमीन पर चलना क्या संकेत देता है?

छिपकली का चलना कई घटनाओं के बारे में बताता है। हर घर में छिपकली पाई…

7 October 2020

हाथरस गैंगरेप मामले में सामने आई नई बात, 23 साल पुरानी है दुश्मनी

लखनऊ। हाथरस गैंगरेप और मर्डर केस में पीड़िता के गांव से मिली जानकारी के मुताबिक,…

4 October 2020

This website uses cookies.

Read More